Crime News
  • 16 किलो 441 ग्राम गांजा के साथ उड़ीसा राज्य का अंतर्राज्यीय गांजा तस्कर बृन्दाबन नूरनाका गिरफ्तार
    वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय  संतोष कुमार सिंह के दिशा निर्देश पर रायपुर पुलिस द्वारा निजात अभियान के तहत नशे के विरूद्ध विशेष अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें समस्त थाना एवं एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट की टीम द्वारा लगातार कार्यवाही की जा रहीं है। नारकोटिक्स एक्ट पर प्रभावी कार्यवाही करने हेतु एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट की विशेष टीम का गठन किया गया है साथ ही समस्त थाना प्रभारियों को नशे की सामाग्री बिक्री करने वालों एवं सप्लाई करने वालों पर कठोर कार्यवाही करने निर्देशित किया गया है।
     
    इसी तारतम्य में दिनांक 07.05.2024 को एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट अंतर्गत गठित नारोटिक्स टीम को सूचना प्राप्त हुई कि थाना गुढ़ियारी क्षेत्रांतर्गत रायपुर रेलवे स्टेशन नम्बर 07, गुढ़ियारी पास एक व्यक्ति अपने पास गांजा रखा है तथा कहीं जाने के फिराक में है। जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर श्री लखन पटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध श्री संदीप मित्तल, नगर पुलिस अधीक्षक उरला  मणिशंकर चंद्रा एवं उप पुलिस अधीक्षक क्राईम  संजय सिंह द्वारा प्रभारी एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट तथा थाना प्रभारी गुढ़ियारी को सूचना की तस्दीक कर आरोपी को गांजा के साथ रंगे हाथ पकड़ने निर्देशित किया गया। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट तथा थाना गुढ़ियारी पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा उक्त स्थान पर जाकर मुखबीर द्वारा बताये हुलिये के व्यक्ति को चिन्हांकित कर पकड़ा गया। पूछताछ में व्यक्ति ने अपना नाम बृन्दावन नूरनाका निवासी रायगढ़ा, उड़ीसा का होना बताया। टीम के सदस्यों द्वारा उसके पास रखे बैग की तलाशी लेने पर बैग में गांजा रखा होना पाया गया। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा बृन्दाबन नूरनाका को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 16 किलो 441 ग्राम, नगदी 1,000₹ तथा घटना में प्रयुक्त 01 नग मोबाईल फोन जुमला कीमती लगभग 2,63,000/- रूपये जप्त कर आरोपी के विरूद्ध थाना गुढ़ियारी में अपराध क्रमांक 370/2024 धारा 20बी नारकोटिक्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर कार्यवाही की गई।  
     
    गिरफ्तार आरोपी- बृन्दाबन नूरनाका पिता बुदरू नूरनाका निवासी मुनीगुड़ा, रायगढ़ा, उड़ीसा।
     
    कार्यवाही में निरीक्षक कृष्ण कुमार कुशवाहा, एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट से प्रभारी निरीक्षक परेश पाण्डेय, प्र.आर. संतोष दुबे, आर. मुनीर रजा, घनश्याम साहू, रवि तिवारी, कलेश्वर कश्यप,  पुरूषोत्तम सिन्हा तथा थाना गुढ़ियारी से सउनि प्रफुल्ल परीछा की महत्वपूर्ण भूमिंका रही।
  • CG CRIME : खेत में रखवाली कर रहे किसान की कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या...जानिए हत्या की वजह

    बिलासपुर। जिले के मस्तूरी थाना क्षेत्र में मंगलवार की सुबह खेत की रखवाली करने गया था। तभी अचानक एक युवक ने उससे कुल्हाड़ी छीनकर पीछे से ताबड़तोड़ वार कर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि आरोपी पेशे से ड्राइवर है और गाली-गलौज कर रहा था, जिसे मना करने पर उसने किसान की कुल्हाड़ी से ही उसकी हत्या कर दी। इस वारदात के बाद गुस्साए लोगों ने हमलावर आरोपी को पकड़ लिया और बांध कर उसकी जमकर पिटाई कर दी। जिसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

    बता दें कि ग्राम फरहदा निवासी लोचनप्रसाद धुरी 65 वर्ष खेती-किसानी करता था। वह अपनी खेत में गर्मी में फसल उगाया है। उसका खेत गांव से लगे ग्राम कर्रा खार में है। मंगलवार की सुबह वो फसल की रखवाली करने खेत गया था। तभी सुबह करीब 7 बजे वहां से कमलेश्वर पैकरा गुजर रहा था। इस दौरान उसने किसान के साथ गाली-गलौज किया, तब उसने गाली देने से मना किया।

    फिर अचानक कमलेश्वर ने पीछे से उसकी कुल्हाड़ी छीन लिया और हमला कर दिया। लोचन कुछ समझ पाता इससे पहले ही उसने ताबड़तोड़ वार कर दिया, जिससे लोचन खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर गया। मामले में पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं मामले को जांच में लिया है।

  • CG CRIME : खेत में रखवाली कर रहे किसान की कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या...जानिए हत्या की वजह

    बिलासपुर। जिले के मस्तूरी थाना क्षेत्र में मंगलवार की सुबह खेत की रखवाली करने गया था। तभी अचानक एक युवक ने उससे कुल्हाड़ी छीनकर पीछे से ताबड़तोड़ वार कर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि आरोपी पेशे से ड्राइवर है और गाली-गलौज कर रहा था, जिसे मना करने पर उसने किसान की कुल्हाड़ी से ही उसकी हत्या कर दी। इस वारदात के बाद गुस्साए लोगों ने हमलावर आरोपी को पकड़ लिया और बांध कर उसकी जमकर पिटाई कर दी। जिसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

    बता दें कि ग्राम फरहदा निवासी लोचनप्रसाद धुरी 65 वर्ष खेती-किसानी करता था। वह अपनी खेत में गर्मी में फसल उगाया है। उसका खेत गांव से लगे ग्राम कर्रा खार में है। मंगलवार की सुबह वो फसल की रखवाली करने खेत गया था। तभी सुबह करीब 7 बजे वहां से कमलेश्वर पैकरा गुजर रहा था। इस दौरान उसने किसान के साथ गाली-गलौज किया, तब उसने गाली देने से मना किया।

    फिर अचानक कमलेश्वर ने पीछे से उसकी कुल्हाड़ी छीन लिया और हमला कर दिया। लोचन कुछ समझ पाता इससे पहले ही उसने ताबड़तोड़ वार कर दिया, जिससे लोचन खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर गया। मामले में पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं मामले को जांच में लिया है।

  • अपने मताधिकार का प्रयोग कर लोकतंत्र को मजबूत करें।

    जिलेवासियों से मतदान प्रक्रिया में बढ़-चढ़ कर भाग लेने की अपील है। अपने मताधिकार का प्रयोग कर लोकतंत्र को मजबूत करें। 

    संतोष सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, रायपुर

  • Cg News: छोटी बहन ने ही की थी भाई की हत्या...इस वजह से हुआ था विवाद

    खैरागढ़। मोबाइल पर बात करने से मना करने पर छोटी बहन ने अपने बड़े भाई की बेरहमी से हत्या कर दी. मामला छुईखदान के अमलीडीह कला का है. खैरागढ़ पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 18 वर्षीय मृतक देवप्रसाद वर्मा की हत्या उसकी चौदह वर्षीय छोटी बहन ने कर दी।

    पुलिस ने हत्या का खुलासा करते हुए बताया कि देवप्रसाद और उसकी छोटी बहन घर पर अकेले थे. छोटी बहन अक्सर लड़कों से बात करती थी, जिसको लेकर देवप्रसाद और उसकी बहन में कहासुनी हो गई. मोबाइल पर लड़कों से बात न करने और परिवार की इज्जत का वास्ता देते हुए देवप्रसाद ने अपनी बहन को जमकर फटकार लगाई और संभवतः मारपीट भी की.
    और यही बात देवप्रसाद की मौत का कारण बन गई. इसके बाद नाबालिग बालिका ने घर में सो रहे देवप्रसाद पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया. प्रहार इतना खतरनाक था कि देवप्रसाद की मौके पर ही मौत हो गई.

    हत्या के बाद बालिका ने अपने खून से सने कपड़ों को साफ किए और भाई की हत्या होने का शोर मचाने लगी. शोर सुनकर गांव वाले मौके पर पहुंचे. घटना की सूचना पुलिस को दी गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू की. लेकिन 18 वर्षीय लड़के का इतनी बेरहमी से कत्ल कौन करेगा इस प्रश्न का पुलिस के पास उत्तर नहीं था. पुलिस ने फ़ारेंसिक, साइबर टीम, डॉग स्कॉड समेत सभी तंत्र का उपयोग कर सभी एंगल से जांच शुरू की.

     जांच की सुई बार-बार नाबालिग बालिका पर जाकर अटक रही थी. संदेह के आधार पर नाबालिग बालिका से पूछताछ की गई, इस पर उसने अपना गुनाह क़बूल कर लिया. नाबालिग बालिका को किशोर न्यायालय के समक्ष न्यायिक हिरासत में भेजा गया.

  • पुणे (महाराष्ट्र) से 26 सटोरिये गिरफ्तार छत्तीसगढ़ राज्य की आई.पी.एल. सट्टे पर अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही
    पुलिस रायपुर रेंज रायपुर  अमरेश मिश्रा एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  संतोष कुमार सिंह द्वारा रायपुर पुलिस के समस्त पुलिस राजपत्रित अधिकारियों, थाना प्रभारियों सहित प्रभारी एण्टी क्राईम एण्ड सायबर यूनिट को आई.पी.एल. क्रिकेट मैच 2024 के सीजन में क्रिकेट मैच के दौरान सट्टा खेलने/खिलाने वालों एवं इस कारोबार में संलिप्त लोगों की पतासाजी कर आवश्यक कार्यवाही करने के साथ ही क्रिकेट सट्टा के कारोबार पर प्रभावी रूप से अंकुश लगाने हेतु निर्देशित किया गया है।
     
    इसी क्रम में थाना गंज के अपराध क्रमांक 184/24 धारा 4(क) जुआ एक्ट एवं छ.ग. जुआ प्रतिषेध अधिनियम 2022 की धारा 7 के प्रकरण में एण्टी क्राईम एण्ड सायबर यूनिट तथा थाना गंज पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा गोवा के एम.व्ही.आर. होम्स स्थित एक फ्लैट में रेड कार्यवाही कर फ्लैट से 08 सटोरियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 04 नग लैपटॉप, 01 नग कैमरा, 01 नग कैल्क्यूलेटर, 27 नग मोबाईल फोन (जिसमें 07 नग की-पेड मोबाईल फोन डब्बा पैक है), 01 राउटर एवं लिंक कनेक्टर जुमला कीमती लगभग 10,00,000/- रूपये तथा 11 नग ए.टी.एम. कार्ड एवं 01 चेक बुक जप्त कर सटोरियों के विरूद्ध कार्यवाही किया गया था। 
     
    गिरफ्तार सटोरियों सेे पूछताछ एवं विवेचना क्रम में पाया गया कि उनके अन्य साथी महाराष्ट्र के पुणे में बैठकर महादेव एप पैनल के माध्यम से सट्टा संचालित कर रहे है। चूंकि एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट रायपुर की टीम थाना माना के प्रकरण में आरोपी पतासाजी हेतु पूर्व से महाराष्ट्र में उपस्थित थी। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में पूर्व से उपस्थित एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट टीम की सहायता हेतु 01 अन्य टीम का गठन कर पुणे महाराष्ट्र रवाना किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा पुणे पहुंच कर सटोरियों की पतासाजी करते हुए सटोरियों को लोकेट किया गया जो कि पुणे के भारती विद्यापीठ क्षेत्र के कृष्णा पिकुंज एवं राजदीप अपार्टमंेट स्थित 02 अलग - अलग फ्लैट में रहकर सट्टा खिला रहे थे। एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट टीम के सदस्यों द्वारा लगातार 07 दिवस तक उक्त जगह में दूधवाला, सब्जी वाला, पेपर वाला बनकर रेकी की गई तथा प्रत्येक व्यक्ति के बारे में जानकारी प्राप्त की गई तथा पूरे लोगों की उपस्थिति होते ही दोनों स्थानों पर एक साथ रेड कार्यवाही किया गया। रेड कार्यवाही के दौरान दोनों फ्लैट में कुल 26 व्यक्ति उपस्थित थे, जो लैपटॉप, मोबाईल फोन व अन्य के माध्यमों से सेटअप तैयार कर ऑनलाईन सट्टा संचालित कर रहे थे।
     
    सटोरियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर उनके द्वारा आई.पी.एल. क्रिकेट मैच के दौरान रेड्डी 67, महादेव 149 एवं लेजर 10 आई.डी. पैनल के माध्यम से ऑन लाईन सट्टा का संचालन स्वीकार करने के साथ ही पप्पू जेठवानी जो थाना पुरानी बस्ती रायपुर का हिस्ट्रीशीटर है, को इस व्यवसाय में संलिप्त होना तथा साथ में मिलकर सट्टा संचालित करना बताया गया। रायपुर निवासी नवीन वैद्य, कोरबा निवासी पिंटू एवं चांपा निवासी नयन तीनों मुरली से जुड़े हुए है तथा इसी से आई.डी. लेते है। मुरली एवं पिंटू के दुबई में होने की संभावना है।  
     
    जिस पर सभी 26 सटोरियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लैपटॉप 11 नग, मोबाईल फोन 98 नग, कैल्कुलेटर 01 नग, वाईफाई 02 नग, रजिस्टर 03 नग, पास बुक 30 नग, चेक बुक 09 नग, एटीएम 81 नग तथा सिम कार्ड 50 नग जुमला कीमती लगभग 25 लाख रूपये जप्त किया गया है। सटोरियों के पास जप्त लैपटॉप एवं मोबाईल फोन में लगभग 30 करोड़ रूपये से अधिक के लेन-देन की जानकारी प्राप्त हुई है तथा 1,000 से अधिक प्लेयर की जानकारी भी इनके द्वारा दी गई है। जिनके आंकड़े व जानकारी जुटाये जा रहे है।   
     
    सटोरियों के विरूद्ध थाना गंज में अपराध क्रमांक 184/24 धारा 4(क) जुआ एक्ट एवं छ.ग. जुआ प्रतिषेध अधिनियम 2022 की धारा 7 का अपराध पंजीबद्ध किया गया था। प्रकरण में धारा 420, 120बी भादवि. एवं भारतीय तार अधिनियम की धारा 25सी एवं आई.टी. एक्ट की धारा 66सी जोड़ी जाकर विवेचना की जा रहीं है। 
     
    गिरफ्तार आरोपियों में 22 छत्तीसगढ (रायपुर-07, दुर्ग-06, राजनांदगांव-03, जांजगीर-चांपा -02, कोरबा-02, सूरजपुर-01 एवं मानपुर मोहला-01) 03 मध्य-प्रदेश एवं 01 उत्तर प्रदेश के निवासी है। 
    प्रकरण में संलिप्त अन्य सटोरियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने के हर संभव प्रयास किये जा रहे है। 
     
    गिरफ्तार आरोपी
     
    01 राहुल कोल्हाटकर पिता कैलाश कोल्हाटकर उम्र 21 वर्ष निवासी ग्राम निलजी थाना लालबर्रा
    जिला बालाघाट (म.प्र.)।
     
    02 समीर मेश्राम उर्फ बबलु पिता राजेन्द्र मेश्राम उम्र 20 वर्ष निवासी ग्राम माहुद थाना अम्बागढ 
    चौकी थाना अम्बागढ चौकी जिला मोहला मानपुर।
     
    03 अनुराग डहरिया पिता उमेन्द्र डहरिया उम्र 22 वर्ष निवासी गुलाबरा गली नंबर 18 थाना 
    कोतवाली जिला छिन्दवाडा (म.प्र.)।
     
    04 अक्षत दुबे पिता अरविंद दुबे उम्र 25 वर्ष निवासी जी-20 ए.टी.एम. चौक के पास अवंति विहार थाना तेलीबांधा जिला रायपुर (छ.ग.)।
     
    05 साहिल साहू पिता राजू साहू उम्र 21 वर्ष निवासी एन.टी.पी.सी. मेन रोड थाना दर्री जिला
    कोरबा (छ.ग.)।
     
    06 जॉन सिंह पिता प्रदीप सिंह उम्र 20 वर्ष निवासी मदर टेरेसा नगर पावर हाऊस पवन किराना 
    के पास थाना छावनीजिला दुर्ग (छ.ग.)।
     
    07 शेखर वाधवानी पिता श्याम सुंदर वाधवानी उम्र 24 वर्ष निवासी किसाराम गुरूद्वारा के पास 
    लाखे नगर थाना आजाद चौक जिला रायपुर (छ.ग.)।
     
    08 देवेश सचदेव पिता कन्हैया लाल उम्र 20 वर्ष निवासी जयकाली चौक के पास सारथी चौक
    लाखे नगर थाना आजाद चौकजिला रायपुर (छ.ग.)।
     
    09 साहित पराते पिता बृजलाल पराते उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम मिरीया  थाना बहेला जिला 
    बालाघाट (म.प्र.)।
     
    10 अर्पित छाबडा पिता स्व. रत्न छाबडा उम्र 35 वर्ष निवासी मं.नं. 194 अनाज लाईन हटरी 
    बाजार गांधी चौक थाना कोतवाली जिला दुर्ग (छ.ग.)।
     
    11 रोहित यादव पिता राजेश यादव उम्र 25 वर्ष निवासी दिग्विजय कालेज रोड सोनारपारा थाना 
    बसंतपुर जिला राजनांदगांव (छ.ग.)।
     
    12 मिथुन चौहान पिता स्व. मन्नुलाल चौहान उम्र 38 वर्ष निवासी थाना चौक चांपा थाना चांपा 
    जिला जांजगीर चांपा (छ.ग.)।
     
    13 सौरभ शुक्ला उर्फ बाबू पिता ओम प्रकाश उम्र 27 वर्ष निवासी के.पी.एस. स्कूल के पास
    वैशाली नगर थाना वैशाली नगर जिला दुर्ग (छ.ग.)।
     
    14 हिरेश कुमार पिता गजेन्द्र लाल प्रजापति उम्र 22 वर्ष निवासी बैकुण्ठपुर हाईस्कूल के पास 
    थाना पटना जिला कोरिया  (छ.ग.)।
     
    15 मयंक लोहानी पिता विजय कुमार लोहानी उम्र 30 वर्ष निवासी सिंधी कालोनी दुर्गा मंदिर के 
    पास थाना बसंतपुर जिला राजनांदगांव (छ.ग.)।
     
    16 रवि तेलवानी पिता स्व. लीलाराम तेलवानी उम्र 48 वर्ष निवासी सांई मंदिर के पास सत्यम 
    विहार कालोनी महादेव घाट रायपुरा थाना डी.डी. नगर जिला रायपुर (छ.ग.)।
     
    17 विशाल कुमार पिता श्यामलाल चौहान उम्र 22 वर्ष निवासी थाना चौक चांपा थाना चांपा 
    जिला जांजगीर चांपा (छ.ग.)।
     
    18 आशय शिंदे पिता दीपक शिंदे उम्र 27 वर्ष निवासी बसंत टाकिज के पीछे कैम्प-01 भिलाई 
    थाना छावनी जिला दुर्ग (छ.ग.)।
     
    19 आशीष पाहुजा पिता स्व. गोवर्धन पाहुजा उम्र 39 वर्ष निवासी पुराना बस स्टैण्ड सांई 
    कालोनी थाना कोतवाली जिला कोरबा (छ.ग.)।
     
    20 राहुल प्रीतवानी पिता अशोक कुमार प्रीतवानी उम्र 36 वर्ष निवासी सोनकरपारा सारथी चौक
    थाना आजाद चौक जिला रायपुर (छ.ग.)।
     
    21 कमल सिंह पिता वीरनारायण सिंह उम्र 20 वर्ष निवासी सुभाष चौक रामानुजगंज थाना 
    रामानुजगंज जिला सूरजपुर (छ.ग.)।
     
    22 अंश भटठी पिता राकेश भटठी उम्र 19 वर्ष निवासी हाऊसिंग बोई भिलाई थाना जामुल जिला 
    दुर्ग (छ.ग.)।
     
    23 सुजल रूपरेला पिता स्व. पुरूषोत्तम रूपरेला उम्र 18 साल निवासी गुप्ता किराना स्टोर्स के 
    पास वालफोर्ड सिटी भाटागांव थाना पुरानी बस्ती जिला रायपुर (छ.ग.)।
     
    24 शशांक कुमार राय पिता सलील कुमार राय उम्र 46 वर्ष निवासी जी-23 सेक्टर 01 अवंति 
    विहार थाना तेलीबांधा जिला रायपुर (छ.ग.)।
     
    25 भुनेश कुमार पिता देशपत राजपूत उम्र 26 वर्ष निवासी सरिला बहारा थाना अलालपुर जिला 
    हमीरपुर (उ.प्र.)।
     
    26 अक्षत धनकर पिता तुलसी राम धनकर उम्र 26 वर्ष सा. रवेली थाना नंदनी अहिरवारा जिला दुर्ग (छ.ग.)।
     
    कार्यवाही में एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट से प्रभारी परेश पाण्डेय, उपनिरीक्षक सतीश पुरिया, सउनि. किशोर सेठ, मोह0 कय्यूम, प्रेमराज बारिक, प्र.आर. नोहर देशमुख, चिंतामणी साहू, सरफराज चिश्ती, महेन्द्र राजपूत, मोह. सुल्तान, रविकांत पाण्डेय, कृपासिंधु पटेल, आर. जसवंत सोनी, हिमांशु राठौड़, अनिल राजपूत, राजिक खान, दिलीप जांगडे, महिपाल सिंह, संतोष सिन्हा, धनंजय गोस्वामी, सुरेश देशमुख, नितेश राजपूत, लालेश नायक एवं म.आर. बबीता देवांगन की महत्वपूर्ण भूमिंका रहीं।
  • आई.पी.एल. सट्टे पर अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही पुणे (महाराष्ट्र) से 26 सटोरिये गिरफ्तार

    *छत्तीसगढ़ राज्य की आई.पी.एल. सट्टे पर अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही पुणे (महाराष्ट्र) से 26 सटोरिये गिरफ्तार* *आरोपी 03 राज्यों मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ एवं उत्तर प्रदेश के निवासी* * एण्टी क्राईम एण्ड सायबर यूनिट रायपुर की कार्यवाही।* * सटोरियों के विरूद्ध राज्य की अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही।* * पुणे (महाराष्ट्र) में बैठकर रेड्डी 67, महादेव पैनल 149 एवं लेजर 10 आई.डी. पैनल से आई.पी.एल. क्रिकेट मैच में कर रहे थे सट्टा का संचालन।* * 35 से 50 लाख रूपये में ली गई थी एक - एक आई.डी.।* * प्रकरण में 26 सटोरियों के साथ अब तक कुल 34 सटोरिये गिरफ्तार।* * सटोरियों के कब्जे से लैपटॉप 11 नग, मोबाईल फोन 98 नग, कैल्कुलेटर 01 नग, वाईफाई 02 नग, रजिस्टर 03 नग, पास बुक 30 नग, चेक बुक 09 नग, एटीएम 81 नग तथा सिम कार्ड 50 नग किया गया है जप्त।* * जप्त मशरूका की कुल कीमत है लगभग 25 लाख रूपये।* * सटोरियों से जप्त लैपटॉप एवं मोबाईल फोन में लगभग 30 करोड़ रूपये से अधिक के लेन-देन की जानकारी हुई है प्राप्त।* * मोबाईल एवं बैंक खातों से हजारों प्लेयर की जानकारी भी हुई है प्राप्त।* * सटोरियों के विरूद्ध थाना गंज में अपराध 184/24 धारा 4(क) जुआ एक्ट एवं छ.ग. जुआ प्रतिषेध अधिनियम 2022 की धारा 7 का अपराध है पंजीबद्ध।* * प्रकरण में धारा 420, 120बी भादवि. एवं भारतीय तार अधिनियम की धारा 25सी एवं आई.टी. एक्ट की धारा 66सी जोड़ी जाकर की जा रहीं है विवेचना।* * वर्ष 2024 के आई.पी.एल. क्रिकेट मैच के दौरान एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट की टीम द्वारा अब तक 09 प्रकरण में कुल 57 आरोपियों को किया जा चुका है गिरफ्तार।* विवरण - श्रीमान् पुलिस महानिरीक्षक रायपुर रेंज रायपुर श्री अमरेश मिश्रा एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री संतोष कुमार सिंह द्वारा रायपुर पुलिस के समस्त पुलिस राजपत्रित अधिकारियों, थाना प्रभारियों सहित प्रभारी एण्टी क्राईम एण्ड सायबर यूनिट को आई.पी.एल. क्रिकेट मैच 2024 के सीजन में क्रिकेट मैच के दौरान सट्टा खेलने/खिलाने वालों एवं इस कारोबार में संलिप्त लोगों की पतासाजी कर आवश्यक कार्यवाही करने के साथ ही क्रिकेट सट्टा के कारोबार पर प्रभावी रूप से अंकुश लगाने हेतु निर्देशित किया गया है। इसी क्रम में थाना गंज के अपराध क्रमांक 184/24 धारा 4(क) जुआ एक्ट एवं छ.ग. जुआ प्रतिषेध अधिनियम 2022 की धारा 7 के प्रकरण में एण्टी क्राईम एण्ड सायबर यूनिट तथा थाना गंज पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा गोवा के एम.व्ही.आर. होम्स स्थित एक फ्लैट में रेड कार्यवाही कर फ्लैट से 08 सटोरियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 04 नग लैपटॉप, 01 नग कैमरा, 01 नग कैल्क्यूलेटर, 27 नग मोबाईल फोन (जिसमें 07 नग की-पेड मोबाईल फोन डब्बा पैक है), 01 राउटर एवं लिंक कनेक्टर जुमला कीमती लगभग 10,00,000/- रूपये तथा 11 नग ए.टी.एम. कार्ड एवं 01 चेक बुक जप्त कर सटोरियों के विरूद्ध कार्यवाही किया गया था। गिरफ्तार सटोरियों सेे पूछताछ एवं विवेचना क्रम में पाया गया कि उनके अन्य साथी महाराष्ट्र के पुणे में बैठकर महादेव एप पैनल के माध्यम से सट्टा संचालित कर रहे है। चूंकि एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट रायपुर की टीम थाना माना के प्रकरण में आरोपी पतासाजी हेतु पूर्व से महाराष्ट्र में उपस्थित थी। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में पूर्व से उपस्थित एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट टीम की सहायता हेतु 01 अन्य टीम का गठन कर पुणे महाराष्ट्र रवाना किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा पुणे पहुंच कर सटोरियों की पतासाजी करते हुए सटोरियों को लोकेट किया गया जो कि पुणे के भारती विद्यापीठ क्षेत्र के कृष्णा पिकुंज एवं राजदीप अपार्टमंेट स्थित 02 अलग - अलग फ्लैट में रहकर सट्टा खिला रहे थे। एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट टीम के सदस्यों द्वारा लगातार 07 दिवस तक उक्त जगह में दूधवाला, सब्जी वाला, पेपर वाला बनकर रेकी की गई तथा प्रत्येक व्यक्ति के बारे में जानकारी प्राप्त की गई तथा पूरे लोगों की उपस्थिति होते ही दोनों स्थानों पर एक साथ रेड कार्यवाही किया गया। रेड कार्यवाही के दौरान दोनों फ्लैट में कुल 26 व्यक्ति उपस्थित थे, जो लैपटॉप, मोबाईल फोन व अन्य के माध्यमों से सेटअप तैयार कर ऑनलाईन सट्टा संचालित कर रहे थे। सटोरियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर उनके द्वारा आई.पी.एल. क्रिकेट मैच के दौरान रेड्डी 67, महादेव 149 एवं लेजर 10 आई.डी. पैनल के माध्यम से ऑन लाईन सट्टा का संचालन स्वीकार करने के साथ ही पप्पू जेठवानी जो थाना पुरानी बस्ती रायपुर का हिस्ट्रीशीटर है, को इस व्यवसाय में संलिप्त होना तथा साथ में मिलकर सट्टा संचालित करना बताया गया। रायपुर निवासी नवीन वैद्य, कोरबा निवासी पिंटू एवं चांपा निवासी नयन तीनों मुरली से जुड़े हुए है तथा इसी से आई.डी. लेते है। मुरली एवं पिंटू के दुबई में होने की संभावना है। जिस पर सभी 26 सटोरियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लैपटॉप 11 नग, मोबाईल फोन 98 नग, कैल्कुलेटर 01 नग, वाईफाई 02 नग, रजिस्टर 03 नग, पास बुक 30 नग, चेक बुक 09 नग, एटीएम 81 नग तथा सिम कार्ड 50 नग जुमला कीमती लगभग 25 लाख रूपये जप्त किया गया है। सटोरियों के पास जप्त लैपटॉप एवं मोबाईल फोन में लगभग 30 करोड़ रूपये से अधिक के लेन-देन की जानकारी प्राप्त हुई है तथा 1,000 से अधिक प्लेयर की जानकारी भी इनके द्वारा दी गई है। जिनके आंकड़े व जानकारी जुटाये जा रहे है। सटोरियों के विरूद्ध थाना गंज में अपराध क्रमांक 184/24 धारा 4(क) जुआ एक्ट एवं छ.ग. जुआ प्रतिषेध अधिनियम 2022 की धारा 7 का अपराध पंजीबद्ध किया गया था। प्रकरण में धारा 420, 120बी भादवि. एवं भारतीय तार अधिनियम की धारा 25सी एवं आई.टी. एक्ट की धारा 66सी जोड़ी जाकर विवेचना की जा रहीं है। गिरफ्तार आरोपियों में 22 छत्तीसगढ (रायपुर-07, दुर्ग-06, राजनांदगांव-03, जांजगीर-चांपा -02, कोरबा-02, सूरजपुर-01 एवं मानपुर मोहला-01) 03 मध्य-प्रदेश एवं 01 उत्तर प्रदेश के निवासी है। प्रकरण में संलिप्त अन्य सटोरियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने के हर संभव प्रयास किये जा रहे है। *गिरफ्तार आरोपी* 01 राहुल कोल्हाटकर पिता कैलाश कोल्हाटकर उम्र 21 वर्ष निवासी ग्राम निलजी थाना लालबर्रा जिला बालाघाट (म.प्र.)। 02 समीर मेश्राम उर्फ बबलु पिता राजेन्द्र मेश्राम उम्र 20 वर्ष निवासी ग्राम माहुद थाना अम्बागढ चौकी थाना अम्बागढ चौकी जिला मोहला मानपुर। 03 अनुराग डहरिया पिता उमेन्द्र डहरिया उम्र 22 वर्ष निवासी गुलाबरा गली नंबर 18 थाना कोतवाली जिला छिन्दवाडा (म.प्र.)। 04 अक्षत दुबे पिता अरविंद दुबे उम्र 25 वर्ष निवासी जी-20 ए.टी.एम. चौक के पास अवंति विहार थाना तेलीबांधा जिला रायपुर (छ.ग.)। 05 साहिल साहू पिता राजू साहू उम्र 21 वर्ष निवासी एन.टी.पी.सी. मेन रोड थाना दर्री जिला कोरबा (छ.ग.)। 06 जॉन सिंह पिता प्रदीप सिंह उम्र 20 वर्ष निवासी मदर टेरेसा नगर पावर हाऊस पवन किराना के पास थाना छावनीजिला दुर्ग (छ.ग.)। 07 शेखर वाधवानी पिता श्याम सुंदर वाधवानी उम्र 24 वर्ष निवासी किसाराम गुरूद्वारा के पास लाखे नगर थाना आजाद चौक जिला रायपुर (छ.ग.)। 08 देवेश सचदेव पिता कन्हैया लाल उम्र 20 वर्ष निवासी जयकाली चौक के पास सारथी चौक लाखे नगर थाना आजाद चौकजिला रायपुर (छ.ग.)। 09 साहित पराते पिता बृजलाल पराते उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम मिरीया थाना बहेला जिला बालाघाट (म.प्र.)। 10 अर्पित छाबडा पिता स्व. रत्न छाबडा उम्र 35 वर्ष निवासी मं.नं. 194 अनाज लाईन हटरी बाजार गांधी चौक थाना कोतवाली जिला दुर्ग (छ.ग.)। 11 रोहित यादव पिता राजेश यादव उम्र 25 वर्ष निवासी दिग्विजय कालेज रोड सोनारपारा थाना बसंतपुर जिला राजनांदगांव (छ.ग.)। 12 मिथुन चौहान पिता स्व. मन्नुलाल चौहान उम्र 38 वर्ष निवासी थाना चौक चांपा थाना चांपा जिला जांजगीर चांपा (छ.ग.)। 13 सौरभ शुक्ला उर्फ बाबू पिता ओम प्रकाश उम्र 27 वर्ष निवासी के.पी.एस. स्कूल के पास वैशाली नगर थाना वैशाली नगर जिला दुर्ग (छ.ग.)। 14 हिरेश कुमार पिता गजेन्द्र लाल प्रजापति उम्र 22 वर्ष निवासी बैकुण्ठपुर हाईस्कूल के पास थाना पटना जिला कोरिया (छ.ग.)। 15 मयंक लोहानी पिता विजय कुमार लोहानी उम्र 30 वर्ष निवासी सिंधी कालोनी दुर्गा मंदिर के पास थाना बसंतपुर जिला राजनांदगांव (छ.ग.)। 16 रवि तेलवानी पिता स्व. लीलाराम तेलवानी उम्र 48 वर्ष निवासी सांई मंदिर के पास सत्यम विहार कालोनी महादेव घाट रायपुरा थाना डी.डी. नगर जिला रायपुर (छ.ग.)। 17 विशाल कुमार पिता श्यामलाल चौहान उम्र 22 वर्ष निवासी थाना चौक चांपा थाना चांपा जिला जांजगीर चांपा (छ.ग.)। 18 आशय शिंदे पिता दीपक शिंदे उम्र 27 वर्ष निवासी बसंत टाकिज के पीछे कैम्प-01 भिलाई थाना छावनी जिला दुर्ग (छ.ग.)। 19 आशीष पाहुजा पिता स्व. गोवर्धन पाहुजा उम्र 39 वर्ष निवासी पुराना बस स्टैण्ड सांई कालोनी थाना कोतवाली जिला कोरबा (छ.ग.)। 20 राहुल प्रीतवानी पिता अशोक कुमार प्रीतवानी उम्र 36 वर्ष निवासी सोनकरपारा सारथी चौक थाना आजाद चौक जिला रायपुर (छ.ग.)। 21 कमल सिंह पिता वीरनारायण सिंह उम्र 20 वर्ष निवासी सुभाष चौक रामानुजगंज थाना रामानुजगंज जिला सूरजपुर (छ.ग.)। 22 अंश भटठी पिता राकेश भटठी उम्र 19 वर्ष निवासी हाऊसिंग बोई भिलाई थाना जामुल जिला दुर्ग (छ.ग.)। 23 सुजल रूपरेला पिता स्व. पुरूषोत्तम रूपरेला उम्र 18 साल निवासी गुप्ता किराना स्टोर्स के पास वालफोर्ड सिटी भाटागांव थाना पुरानी बस्ती जिला रायपुर (छ.ग.)। 24 शशांक कुमार राय पिता सलील कुमार राय उम्र 46 वर्ष निवासी जी-23 सेक्टर 01 अवंति विहार थाना तेलीबांधा जिला रायपुर (छ.ग.)। 25 भुनेश कुमार पिता देशपत राजपूत उम्र 26 वर्ष निवासी सरिला बहारा थाना अलालपुर जिला हमीरपुर (उ.प्र.)। 26 अक्षत धनकर पिता तुलसी राम धनकर उम्र 26 वर्ष सा. रवेली थाना नंदनी अहिरवारा जिला दुर्ग (छ.ग.)। *कार्यवाही में एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट से प्रभारी परेश पाण्डेय, उपनिरीक्षक सतीश पुरिया, सउनि. किशोर सेठ, मोह0 कय्यूम, प्रेमराज बारिक, प्र.आर. नोहर देशमुख, चिंतामणी साहू, सरफराज चिश्ती, महेन्द्र राजपूत, मोह. सुल्तान, रविकांत पाण्डेय, कृपासिंधु पटेल, आर. जसवंत सोनी, हिमांशु राठौड़, अनिल राजपूत, राजिक खान, दिलीप जांगडे, महिपाल सिंह, संतोष सिन्हा, धनंजय गोस्वामी, सुरेश देशमुख, नितेश राजपूत, लालेश नायक एवं म.आर. बबीता देवांगन की महत्वपूर्ण भूमिंका रहीं।*

     

  • विवाह कार्यक्रम से चोरी की घटना को अंजाम देने वाले 03 आरोपी गिरफ्तार
    प्रार्थी ईश्वरी प्रसाद हरित ने थाना पुरानी बस्ती में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वह हर्षित नगर टाटीबंध का निवासी है। दिनांक 30.04.2024 प्रार्थी तथा उसकी पत्नी उसके भतीजे की शादि कार्यक्रम बारात में शामिल हुए थे, रात्रि लगभग 08.30 बजे प्रार्थी के भतीजे की बारात लाखेनगर चौक पास पहुंची थी। बारात के दौरान बग्गी में विवाह से संबंधित सोने चांदी के जेवरात तथा नगदी से भरा बैग को चेक करने पर पाया गया कि उक्त बैग वहां नही था। कोई अज्ञात चोर बग्गी से उक्त मशरूका को चोरी कर फरार हो गया था। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना पुरानीबस्ती में अपराध क्रमांक 198/24 धारा 379 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया है। 
     
    चोरी की घटना को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री संतोष कुमार सिंह द्वारा गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पश्चिम श्री दौलत राम पोर्ते, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध श्री संदीप मित्तल, नगर पुलिस अधीक्षक पुरानी बस्ती श्री राजेश देवांगन, उप पुलिस अधीक्षक क्राईम श्री संजय सिंह द्वारा प्रभारी एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट तथा थाना प्रभारी पुरानी बस्ती को अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर जल्द से जल्द गिरफ्तार करने हेतु निर्देशित किया गया। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एण्टी क्राईम एण्ड साईबर यूनिट तथा थाना पुरानी बस्ती पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा घटना के संबंध में प्रार्थी, रिश्तेदारों सहित आस-पास के लोगों से विस्तृत पूछताछ करते हुए अज्ञात आरोपी की पतासाजी करना प्रारंभ किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण करने के साथ-साथ घटना स्थल तथा उसके आस-पास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन करने के साथ ही अज्ञात आरोपी के पतासाजी हेतु प्रकरण में मुखबीर भी लगाये गये। इसी दौरान टीम के सदस्यों को घटना में संलिप्त अज्ञात आरोपियो के संबध्ंा में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा प्रकरण में संलिप्त लाखे नगर निवासी मोह. सैफी की पतासाजी कर पकड़कर कड़ाई से पूछातछ करने पर उसके द्वारा अपने साथी शेख आलम उर्फ ठोला एवं शेख सोहेल उर्फ पैंतिस के साथ मिलकर चोरी की उक्त घटना को अंजाम देना बताया गया। जिस पर घटना में संलिप्त आरोपी शेख आलम उर्फ ठोला एवं शेख सोहेल उर्फ पैंतिस की भी पतासाजी कर पकड़ा गया।
     
    तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से चोरी का सोने के जेवरात तथा नगदी रकम जुमला कीमती लगभग 3,20,000/- रूपये जप्त कर उनके विरूद्ध कार्यवाही की गई।
     
    आरोपियों द्वारा माह फरवरी 2024 में भी थाना टिकरापारा क्षेत्रांतर्गत मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया था जिस पर आरोपियों के विरूद्ध थाना टिकरापारा में अपराध क्रमांक 155/24 धारा 294, 323, 506, 34 भादवि. का  अपराध पंजीबद्ध किया गया है। आरोपियान उक्त प्रकरण में लगातार फरार चल रहे थे। 
  •  आशियाना अपार्टमेंट   के तीसरे फ्लोर में  लगी भीषण आग सोसायटी में मची अफरा तफरी

    राजधानी के कबीरनगर इलाके में लगी आग : आशियाना अपार्टमेंट के तीसरी मंजिल के फ्लैट में आग लगने सोसायटी में मची अफरा तफरी, दमकलकर्मी मौके पर पहुंचे

     

     

    कबीर नगर थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार अविनाश आशियाना के तीसरे फ्लोर में आग लगी है। सी ब्लॉक 302 नंबर मकान में आग लगी है। आग पर काबू पा लिया गया है। आग शॉर्ट सर्किट से लगना बताया जा रहा है।

    जानकारी के अनुसार जब आग लगी उसे दौरान घर में ताला बंद था परिवार के सभी लोग मुंबई गए हुए हैं।किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है।

  • लोहे का खुखरीनुमा धारदार चाकू के साथ 01 आरोपी गिरफ्तार

    दिनांक 30.04.2024 को थाना गुढियारी पुलिस को सूचना मिली कि शुक्रवारी बाजार के पास एक व्यक्ति लोहे का धारदार चाकू लेकर लहरा कर आने जाने वाले लोगों को डरा धमका कर आतंकित करते हुए आरोपी सोहन साहू पिता लखन साहू उम्र 41 वर्ष साकिन ग्राम पंचायत के सामने बाजार चौक रायपुरा थाना डीडी नगर रायपुर को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से अवैध रूप से रखे 01 लोहे का खुखरीनुमा धारादर चाकू जप्त कर आरोपी के विरूद्ध थाना गुढियारी में अपराध क्रं 357/2024 धारा 25, 27 आर्म्स एक्ट, अपराध पंजीबद्ध कर कार्यवाही किया गया। 


    नाम आरोपी - सोहन साहू पिता लखन साहू उम्र 41 वर्ष साकिन ग्राम पंचायत के सामने बाजार चौक रायपुरा थाना डीडी नगर रायपुर

  • कलयुगी बेटे ने कर दी मां की हत्या...डंडे से सिर पर किया ताबड़तोड़ वार...जानिए क्या है पूरा मामला

    रायगढ़ : जिले में कलयुगी बेटे ने महुआ बंटवारा को लेकर कर मां को मौत के घाट उतार दिया है, बताया जा रहा है कि, आरोपी बेटे ने से सिर पर ताबड़तोड़ वार कर अपनी मां को मौत के घाट उतार दिया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। कापू के ग्राम धौराडांड़ की घटना।

    घटना के संबंध में मृतिका का पति चमरू राम बैगा उम्र 60 वर्ष ने बताया कि उसका लड़का जनेव सिंह बैगा उम्र 30 वर्ष अपनी पत्नी के साथ अलग रहता है। ये लोग खेत के महुआ को बीनने के बाद आपस में महुआ का बंटवारा नहीं किए थे। 28 अप्रैल को महुआ बंटवारा को लेकर जनेव बैगा और उसकी मां ढरको बाई के बीच झगड़ा लड़ाई हुआ था। रात्रि खाना खाकर सब अपने-अपने कमरे में सो रहे थे।

    रात्रि करीब 11 बजे जनेव सिंह बैगा द्वारा महुआ बंटवारा की बात को लेकर डंडा से ढरको बाई से मारपीट कर रहा था, बीच बचाव किए तो जनेव राम घर से भाग गया। मारपीट से ढरको बाई के सिर पर आयी गंभीर चोंट से कुछ देर बाद ही ढरको बाई बैगा की मौत हो गई। पति चमरू राम बैगा के रिपोर्ट पर मर्ग कायम कर शव पंचनामा कार्यवाही कर शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।

    पुलिस द्वारा आरोपी जनेव राम बैगा के विरूद्ध हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर गिरफ्तार कर लिया गया है, आरोपी के मेमोरेंडम पर पांच लकड़ी का डंडा जब्त किया गया है।

  • केंद्रीय जेल बिलासपुर में नही है पूर्ण डॉक्टर, आरोपी व बंदियों की बढ़ी परेशानी हो सकता है उनकी जान से खेलवाड़।

    केंद्रीय जेल बिलासपुर में नही है पूर्ण डॉक्टर, आरोपी व बंदियों की बढ़ी परेशानी हो सकता है उनकी जान से खेलवाड़।

    डाक्टरों की कमी से जूझ रहा केंद्रीय जेल बिलासपुर या किसी अनहोनी का कर रहा इंतजार

     

    बिलासपुर केन्दीय जेल में क्षमता से अधिक कैदी है जो जेल प्रशासन के लिए सिरदर्द बन चुका है और उसमें डाक्टरों की कमी जेल प्रशासन के लिए नासूर बनता जा रहा है जेल में आरोपी व बंदियों की अचानक तबीयत खराब होने पर जेल के अंदर कोई व्यवस्था नही है पूरा केंद्रीय जेल मेडिकल फार्मासिस्ट के भरोसे पर चल रहा है । सिम्स व जिला अस्पताल से डाक्टरों को आने में समय लगता है। ऐसे में बंदियों की तबीयत अचानक खराब होने पर उनकी जान के ऊपर बन आती है । और दूसरी ओर डाक्टरों के नही होने का फायदा कुछ बंदी लगातार उठाते रहते है हाल ही में 
     सजा प्राप्त आजीवन कारावास के बंदी को आज 52 दिनों से जिला अस्पताल में रखा गया है और कितने दिनों तक रखा जाएगा इसकी जानकारी भी डाक्टरों द्वारा उपलब्ध नही कराई जा रही जबकि नियमानुसार 30 दिनों में ही डॉक्टर को मेडिकल स्टेटस जेल  अधीक्षक को बताना होता है लेकिन नियमो को दरकिनार करते हुए जिला अस्पताल के डॉक्टर मनमानी करते हुए बंदी को अस्पताल में रखे हुए है।

    विभाग नहीं दे रहा इस पर ध्यान:

    विभाग जेलों में क्षमता से अधिक कैदी रखने पर ध्यान नहीं दे रहा है. यही कारण है कि कैदियों की दुश्मनी जेल के अंदर होती है और वह बाहर बड़े संघर्ष का रूप ले लेती हैं. इस पर ना तो जेल विभाग ध्यान दे रहा है ना ही राज्य सरकार. बिलासपुर के सेंट्रल जेल में क्षमता से अधिक कैदी हैं. जबकि जेल के लिए आबंटित जमीन में न जेल बन पा रहा है और ना ही आबंटित जमीन में हुए बेजा कब्जा को हटाया जा सका है ।

     मन्नू मानिकपुरी बिलासपुर