Top Story
प्रदेश के उद्योगों द्वारा CSR मद की राशि का खर्च कहां और कैसे किया जाता ?
विधानसभा में सीएसआर मद की राशि को लेकर सवाल जवाब के बीच यह स्पष्ट हुआ कि प्रदेश सरकार का नियंत्रण CSR मद की राशि पर नहीं है, मंत्री लखन लाल देवांगन ने सवालों के जवाब में कहा कि उद्योगों द्वारा सीएसआर राशि का खर्च राज्य शासन के देखरेख में नहीं किया जाता और ना ही राज्य शासन को इसकी कोई जानकारी होती है |
  • Cg govt. Add
  • सुशासन दिवस
  • cm oth
  • sukhbir Singhotra
Entertainment News
  • वृषभ राशि कन्या राशि  कुंभ राशि इन 3 राशियों का खुलेगा भाग्य

    वृषभ राशि (Taurus)- वृषभ राशि सर्वाअमृत, सौभाग्य योग के बनने से बिजनेस पार्टी और सेमिनार में कॉन्टेक्ट बढ़ेंगे जिससे आपका पी आर शानदार बनेगा. आप नए -नए लोगों से मिलेंगे. आज का दिन आपके लिए सौभाग्य लेकर आएगा और लकी रहेगा.

    कन्या राशि (Virgo)- कन्या राशि वालों को आज सर्वाअमृत और सौभाग्य योग के बनने से बिजनेस में प्रॉफिट आपके हाथ लगने से आपकी खुशी का ठिकाना नहीं रहेगा. आज का दिन कन्या राशि वालों के लिए सौभाग्य लेकर आएगा और आपके लिए लकी साबित होगा.

    कुंभ राशि 22 फरवरी का दिन कुंभ राशि वालों के लिए सर्वाअमृत और सौभाग्य योग के बनने से बिजनेस में दिन आपके लिए लकी रहेगा. जिससे आपके हाथ कोई बड़ा ऑडर लग सकता है. आज के दिन आपके अटके हुए काम बनेंगे.

  • कुछ टेस्टी खाने का मन है? स्ट्रीट स्टाईल पाव भाजी बनाएं

    सामग्री

     45 मि.
     4 सर्विंग
    1. 250 ग्राम गोभी
    2. 150 ग्राम मटार
    3. 4 टमाटर
    4. 3 आलू
    5. 2 शिमला मिर्च
    6. 4 प्याज
    7. 3 चम्मच टि स्पूनअदरक लहसुन हरी मिर्च धनिया पेस्ट
    8. 2चम्मच टि स्पून पाव भाजी मसाला
    9. 2चम्मच टि स्पून कश्मिरी लाल मिर्च पाउडर
    10. 1/4चम्मच टि स्पून हलदी
    11. 1/4चम्मच टि स्पूनहींग
    12. 2चम्मच टि स्पून तेल
    13. आवश्यकता नुसार बटर आ
    14. आवश्यकता नुसार धनिया बारीक कटा हुआ
    15. 1/2 चम्मच नींबू का रस
    16. स्वादानुसार नमक
    17. मसाला पाव सामग्री -
    18. 5-6 पाव
    19. 1 प्याज बारीक कटा हुआ
    20. आवश्यकता अनुसार धनिया बारीक कटा हुआ
    21. 1 चम्मच पाव भाजी मसाला
    22. 1/2 चम्मच लाल मिर्च पाउडर
    23. आवश्यकता नुसार बटर
    24. स्वादानुसार नमक

    कुकिंग निर्देश

    1. स्टेप 1

      सभी सब्जियां अच्छी तरह धोकर काट लेना। अब छोटे कुकर मे आलू, गोभी, मटार दाना,2 टमाटर और आवशकता नुसार पानी डालकर 3 -4 शिटी निकाल कर पका लेना।अब एक कढाई मे तेल और बटर डालकर उसमें प्याज, शिमला मिर्च डालकर अच्छी तरह सौते करना। अब उसमेंअदरक लहसुन हरी मिर्च धनिया का पेस्ट,2 टमाटर बारीक काट कर डालना। सभी अच्छी तरह सौते करके उसमें पाव भाजी मसाला, लाल मिर्च पाउडर, हलदी, हींग डालकर अच्छी तरह सौते करना। जब तक की बाजू से तेल छुटने लगे तब तक।

      स्टेप 2

      अब उसमें पकाया हुआ आलू, मटार, गोभी स्मॅश करके डालना। अब उसमें स्वादानुसार नमक, धनिया और बटर डालकर उसमें तरह उबाल लाकर पका लेना।

      स्टेप 3

      तवा गर्म करके उसपर बटर डालकर उसमें प्याज, धनिया, पाव भाजी मसाला, लाल मिर्च पाउडर, नमक स्वादानुसार डालकर अच्छी तरह मिक्स करना।अब उसमें पाव अच्छी तरह उपर नीचे करके अच्छी तरह सुनहरा होने तक शेक लेना।

      स्टेप 4

      गरमा गर्म स्ट्रीट स्टाइल पाव भाजी तैयार है।

  • घर में कोई पार्टी हो तो भी बनाकर मेहमानों को हेल्दी और हाइजीनिक मोमोज सर्व कर सकते हैं.

    आज कल मोमोज पसंद करने वालों की कोई कमी नहीं है. जब भी बाहर कहीं भूख लगती है तो लोगों की पहली पसंद वेज या नॉनवेज मोमोज ही होता है. जगह-जगह आपको मोमोज बचने वालों के स्टॉल, ठेले, दुकान नजर आ जाएगी. स्टीम में पकाया जाने वाला मोमोज जितना सिंपल लगता है, उतना ही खाने में स्वादिष्ट और मजेदार भी. बड़े, बच्चे, बुजुर्ग हर कोई इसे (Momos) खाना पसंद करते हैं. कुछ लोग बाहर की चीजें खाने से परहेज करते हैं. ऐसे में वे मोमोज (Veg Momos) खाना तो चाहते हैं, लेकिन बाहर का होने के कारण वे जल्दी नहीं खाते. कोई बात नहीं, आप घर पर भी आसानी से मोमोज बनाना सीख सकते हैं. मोमोज बनाने के लिए आपको स्टफिंग की सामग्री तैयार करने से साथ ही मैदा गूंदना होगा. आप इसे शाम के समय स्नैक्स के तौर पर खा सकते हैं. घर में कोई पार्टी हो तो भी बनाकर मेहमानों को हेल्दी और हाइजीनिक मोमोज सर्व कर सकते हैं. तो चलिए जानते हैं वेज मोमोज बनाने के रेसिपी.

     

    वेज मोमोज बनाने के लिए सामग्री (Veg Momos Banane ke liye Samagri)

     

    आटे के लिए
    मैदा- 2 कप
    तेल- 1 छोटा चम्मच
    नमक-स्वादानुसार

    स्टफिंग के लिए
    पत्ता गोभी- आधा कप
    गाजर- आधा कप
    शिमला मिर्च- 1/4 कप
    अदरक- एक टुकड़ा कटा हुआ
    लहसुन- 2-3 कली कटी हुई
    प्याज- 1/4 कप कटा हुआ
    सोया सॉस- 1 चम्मच
    ग्रीन चिली सॉस- 1 बड़ा चम्मच
    काली मिर्च पाउडर- आधा छोटा चम्मच
    नमक-स्वादानुसार

    सबसे पहले एक बर्तन में मैदा डालें. उसमें तेल और नमक डालकर अच्छी तरह से गूंद लें. आटा बहुत सख्त या गीला ना गूंदें, बल्कि नर्म आटा गूंद लें. अब इसे ढककर अलग रख दें. सभी सब्जियों को आप बारीक काट लें. गैस चूल्हे पर एक पैन चढ़ाएं, इसमें 1 बड़ा चम्मच तेल डालें. जब गर्म हो जाए तो इसमें अदरक, लहसुन डालकर कुछ सेकेंड भूनें. अब इसमें प्याज डालकर भूनें. अब आप सभी सब्जियों जैसे गाजर, शिमला मिर्च, पत्ता गोभी भी डाल दें. इसे कम से कम 3-4 मिनट के लिए फ्राई करें. अब इसमें ग्रीन चिली सॉस, सोया सॉस, काली मिर्च पाउडर, नमक स्वादानुसार डालकर अच्छी तरह से चलाएं. एक से दो मिनट के लिए फ्राई करके गैस बंद कर दें. स्टफिंग तैयार हो गई है.

    अब मैदे से छोटी-छोटी लोई बना कर इसे पूड़ी की तरह बेल लें. बीच का भाग हल्का मोटा और किनारे वाले को थोड़ा पतला ही बेलें. बेलते समय पूरी चिपके तो थोड़ा आटा छिड़क सकते हैं. अब तक स्टफिंग की सामाग्री ठंडी हो गई होगी. इसे एक बड़ा चम्मच पूरी के बीच में डाल दें. अब इसे चारों तरफ से मोड़ते हुए पोटली नुमा बंद करने की कोशिश करें. आप मोमोज खाते हैं तो शेप ध्यान में होगा ही. ऐसे ही सभी मोमोज को बनाकर रख लें. अब एक गहरे बर्तन में एक गिलास पानी डालकर गर्म करें. उसके अंदर एक छोटा सा स्टैंड रख दें ताकि मोमोज वाली प्लेट को उसके ऊपर रख सकें. मोमोज को ऐसी प्लेट में रखें जो बर्तन में अच्छी तरह से फिट हो जाए. अब इसे ढककर कम आंच पर 5-7 मिनट के लिए पकने दें. ढक्कन हटाकर मोमोज को छू कर देखें कि ये पक चुका है या नहीं. छूने पर चिपचिपे ना लगें तो समझ जाएं कि मोमोज रेडी है. अब एक-एक करके एक प्लेट में निकाल लें. इसे मेयोनीज, रेड चिली सॉस के साथ गर्मा गर्म खाने का मजा लें.

  • .मछुआरे ने मशक्कत कर अपने साथियों की मदद से सरोदा बांध से 80 किलो की मछली को उपर निकालने में सफल हुए।

    मछुआरों ने सोमवार सुबह मछली पकड़ने के लिए जाल फैलाया था, लेकिन एक मछुआरा मछली को बाहर निकालने में असफल हो गया। उन्हें लगा कि कोई भारी भरकम वस्तु जाल में फंस गई है। मछुआरे ने अपने साथियों को आवाज दी और अन्य लोगों की मदद से जाल को पानी से बाहर निकाला। जाल को पानी से बाहर निकालने पर मछुआरे अचंभित हो गए। जाल में मछुआरों को लगभग 5 फीट 02 इंच की 80 किलो की विशालकाय मछली मिली। मछुआरे अपने तीन साथियों की मदद से सरोदा बांध से मछली को उपर निकालने में सफल हुए।